Categories
Entertainment Fictional stories Health & beauty Hindi news Love, romance & relationship Uncategorized Women centric

शत्रुतापूर्ण परिवार में एक दुल्हन

मेहर सुबह जल्दी उठी, सुबह कुछ ऐसा ही हुआ जो कुछ महीने पहले हुआ करता था।  वह अब एक नए परिवार का हिस्सा है।  उसे नई ज़िम्मेदारियाँ और नए लोग मिले हैं, वह प्रतिकूल परिस्थितियों में आपनी जगह ढूंढ रही है।

romieducation.com

राजकुमारी कि कहानी जिसकी मृत्यु एक रहस्य हैं

भारत में लड़कियों को हमेशा आंका और दोषी ठहराया जाता है।  “मुझे इस तरह की लड़की पसंद नहीं है, वह लड़की गलत है”।  “मेरे बेटों को फसाया”, “उसने मेरे भाई को बदल दिया”.

एक दिन घर में मेहर ने अपने कुछ ऑफिस में काम करने वाले और दोस्तो को बुलाया था। अचानक से उसकी ननद आयी और सबके सामने मेहर को भला बुरा बोलने लगी। मेहर की एक दोस्त ने आगे बढ़कर समझाने की कोशिश की तो बात और बढ़ गई।

इस बीच मेहर का पति घर आया और उसने सबकुछ अपनी आंखो से देखा। मेहर के पति आशीष ने अपनी बहन को रोकने की कोशश की तो बहन ने इल्ज़ाम लगा दिया कि भाई एक पराई लड़की का साथ दे रहा है और दूसरो के सामने अपने परिवार वाले को जलील कर रहा है।

बात इतनी बढ़ गई कि घर के दूसरे लोगो को रोकना पड़ा।

सभा बैठी सास की और सास ने अपनी बेटी को बिना सुने ही बेकसूर बता दिया।

मेहर पर इल्ज़ाम लगाते हुए बोली कि तुमको बर्दास्त कर लेना चाहिए।

कुछ दिन बाद , तलाकशुदा मौसी मिलने घर आई वत सावित्री व्रत के उपलक्ष में आते ही पहले एक व्यंग्यात्मक लहजे में टिप्पणी की अपनी बहन से “मैंने सुना है कि आपकी बहू जहाँ भी जाती है, सिंदूर लगाती है”।


उस चाची को जवाब देने का मन किया मेहर का “आप दो चुटकी सिंदूर की कीमत के बारे में क्या जानते हैं, बहुत प्यार बस्ता है इसमें।”
और जो मेहर को जज करने में व्यस्त था, उसने उसे एक दर्पण देने के बारे में सोचा। यह सभी चाची और रिश्तेदारों द्वारा आरोप लगाने के लिए बहुत आसान है जो एक दुल्हन को जज करने के लिए हैं।  सबसे दुखद बात यह है कि यह स्वीकार करना कि लड़की अब उनके परिवार का हिस्सा है।  महिलाएं एक लड़की का स्वागत करने के बजाय एक-दूसरे से नफरत करती हैं, वे सिर्फ मानसिक रूप से परेशान करने और उसका जिना दूभर करने की योजना बनाते हैं।

क्या आपको लगता है कि मेहर को बर्दास्त कर लेना चाहिए जैसे उसकी सास ने बोला या फिर आवाज़ उठानी चाहिए।

आपकी राय मेहर को सही दिशा दिखाएगी।

Categories
coronavirus Economy Educational blogs Entertainment Fictional stories food Health & beauty Hindi news Life-related blogs Love, romance & relationship News and information Nillie- Judge her or adore her politics and geopolitics Travel diaries- Lansdowne Uncategorized Women centric Zoe-Light of Moon

My Facebook group for debates and discussion.

Join my page group created for discussion and debates on topics. You can share your views, opinions, thoughts there. An open platform for debates and discussions.

https://www.facebook.com/groups/295771311415957/?ref=share

Categories
Entertainment Fictional stories Hindi news Life-related blogs Love, romance & relationship News and information Women centric

Hindi movies on Amazon Prime you can watch.

Thappad

The movie is available on amazon prime now. This movie created lots of buzzes from the day the trailer released.

The audiences have given 4-5 stars to this movie and it depicts the life of common Indian women and the sensitivity of the movie is well portrayed.

Bhoot

You can watch the movie during the lockdown just to spend your time. While watching the movie at some point, I forgot that it was a scary movie.

You can laugh at the “Bhoot” and after watching the movie laugh at me for recommending this movie.

Shubh Mangal Jyada saavdhan

Always a good movie to watch when you have Ayushman in it. Enjoyed the movie, punch lines everything.

Jawani Janeman

I like Saif Ali’s movie, however, this movie is again just a time-pass. It’s better to watch the movie rather than feeling lonely. At some point, you will feel the movie is stretching itself.

Karwan

A nice and decent movie to watch. If you are missing Irfan Khan you can watch him talking, movie, acting again in front of you. Mithila Palkar and Dalquer both have played their part very well.

Trapped

This is an old movie, the movie is very well directed and Rajkumar has played the part well.

This is about a man who locks himself in a house where there is no electricity, water, food and neighbour. You can relate the movie in this current situation.

Think of a person gets locked during the lockdown?

Qarib qarib single

This story is about a lady who lost all the charms in her life and is trying to search some romance eventually deciding to go on a date through dating app. There she meets up a man different from others. The pair then embarks on a journey developing perfect chemistry.

I will personally request you to watch this movie.